शत्रु शमन के उपाय टोटके

शत्रु शमन के उपाय टोटके

हमें अपने जीवन में कभी न कभी शत्रुओं से सामना करना ही पड़ता है. अगर आपका शत्रु शक्तिशाली है तो आपको बहुत बड़ी मुसीबत का सामना करना पड़ेगा. किसी भी तरह का शत्रु आपकी जीवन को दुभर कर सकता है. इसलिए आपको शत्रु शमन शमन के उपाय टोटके का प्रयोग कर अपने शत्रु से निजात पाना चाहिए| आप शत्रु उच्चाटन तंत्र प्रयोग विधि से अपने शत्रु को परास्त कर सकते हैं. जब भी आप शत्रु शमन के उपाय टोटके करें आप पूरे आत्मविश्वास के साथ करें. पूरे आत्मविश्वास से ये टोटके करने पर आपको अपने शत्रु पर विजय प्राप्त होगी. जब आप शत्रु मारण कर्म का प्रयोग करते हैं तो आपके मन से दुश्मन का भय समाप्त हो जाता है और आपका आत्मविश्वास कई गुना बढ़ जाता है|

शत्रु शमन के उपाय टोटके

शत्रु शमन के उपाय टोटके

शत्रु नाशक/शमन प्रयोग/शत्रु शाबर विनाशक मन्त्र का प्रयोग:

शत्रु कई तरह के हो सकते हैं लेकिन यहाँ दिए गए शत्रु शमन के उपाय से आप आसानी से उन पर विजय प्राप्त कर सकते हैं. किसी भी शत्रु का प्रभाव कम करने के लिए या समाप्त करने के लिए शत्रु शमन का प्रयोग और शत्रु शाबर विनाशक मन्त्र का प्रयोग करने पर बहुत अच्छा परिमाण प्राप्त होता है| अपने शत्रु पर विजय पाने के लिए या शत्रुता को मित्रता में बदलने के लिए आप शत्रु नाशक मात्र का प्रयोग करें|

शत्रु नाशक मंत्र इस प्रकार है –  नृसिंहाय वीद्यहे, बज्र नखाय धि मही तान्नो नृसही  प्रचोदयात!!

इस मंत्र का जाप आपको प्रतिदिन सूरज निकलने के पहले करना होगा. ये मंत्र इतना प्रभावशाली है कि इसके प्रयोग से कोई भी व्यक्ति शत्रुता भूलकर मित्रता का व्यवहार करने लगता है. इस मंत्र का जाप करने से आपका शत्रु कभी आपके विरुद्ध षड्यंत्र नही कर पायेगा| अगर आपके शत्रु ने आपका जीना दूभर कर दिया है तो माँ काली की आराधना से आपको काफी अच्छा परिणाम प्राप्त होगा. माँ काली हर तरह के शत्रु से बचाव करती हैं और उनके दुष्प्रभाव से साधक को मुक्त करती हैं. माँ काली की आराधना अमावस्या को रविवार के दिन करें. इसके लिए आप काले रंग के एक कपड़े पर माँ काली की मूर्ति रखें और माँ का मुख उत्तर दिशा की और रखे. इसके बाद आप पूजन आरम्भ करें|

ये पूजा साधारण तरीके से ही संपन्न करें. जब माँ काली की पूजा पूरी हो जाए तो एक नीम्बू लेकर इस पर अपने दुश्मन का नाम लिखें और शत्रु से मुक्ति के लिए माँ से प्रार्थना करें. इस विधि के बाद रुद्राक्ष, कला हकिक या मुंगे वाली माला से माँ काली के मन्त्र का उच्चारण करें. 11 माला जाप करने पर आपको अपेक्षित परिणाम प्राप्त होने लगेगा. एक माला जाप संपन्न होने के बाद माँ काली के सम्मुख रखे नीम्बू पर उड़द की दाल चढ़ाएं. इस दौरान मनन करें कि  माँ काली आपके शत्रु के प्रभाव को समाप्त कर रही हैं|

माला जाप करते समय इस मंत्र का उच्चारण करें. मंत्र – क्री क्रीं शत्रु नाशीनी क्रीं क्री फट!!

जब जाप पूरा हो जाए तो नीम्बू को किसी मटकी में डाल दें. अब माँ काली के आसन का काला कपड़ा लेकर उस मटकी का मुख बांध दें. ऐसा करते हुए माँ काली से प्रार्थना करें कि वे शत्रु के सभी नकारात्मक प्रभावों से मुक्त करें और शांतिमय जीवन प्रदान करें. ये शत्रु शमन के उपाय टोटके आपके शत्रु से आपको शीघ्र ही मुक्ति देंगे| इसके पश्चात मटकी किसी सुने स्थान पर जा कर गाड़ दें. ये शत्रु शमन के उपाय टोटके करने के बाद शत्रु के व्यवहार में बदलाव आ जायेगा और वह शत्रुता करना छोड़ देगा|

शत्रु शमन के उपाय टोटके/दुश्मन का नाश करने के उपाय

आप कृष्ण पक्ष में द्वितीया को जिस दिन गुरुवार हो या फिर शनिवार हो यह शत्रु शमन के उपाय टोटके कर सकते हैं. इस उपाय को भैरव अष्ठमी के दिन भी कर सकते हैं. अगर आप चाहते हैं कि आप पर आपने शत्रु का प्रभाव पूरी तरह से समाप्त हो जाए और आपको उसके पूर्ण रूप से मुक्ति मिल जाए तो आप इस प्रयोग या टोटके को करें| इसके लिए आप इस मन्त्र का उच्चारण करते हुए एक छोटे सफ़ेद कागज़ पर अपने शत्रु के नाम लिखें|

मन्त्र इस प्रकार है. क्षौं क्षौ भैरवय स्वाहा!

अब इस कागज़ को शहद की किसी शीशी में रखकर शनि या भैरव मंदिर में गाढ़ दें. ये प्रयोग आपको अपने शत्रु से निजात दिलाने में रामबाण औषधि का काम करेगा| शत्रु शमन के उपाय टोटके आपके लिए वरदान साबित होंगे. इसलिए आप पूरे आत्मविश्वास के साथ इनका प्रयोग कीजिए आपको ज़रूर सफलता मिलेगी. आप शत्रु को परास्त करने के लिए अन्य उपाय भी कर सकते हैं जो इस प्रकार हैं|

शत्रु मारण कर्म का प्रयोग:

अगर कोई शत्रु आपके कार्य में नियमित बाधा डाल रहा है तो सुबह सूरज निकलने के पहले एक नीम्बू लेकर इसको चार हिस्सों में विभाजित कर दें. अब इन्हें हाथ में उठाकर अपने इष्ट देव को याद करें. इसके बाद 11 बार गायत्री मन्त्र का जाप करें. इसके साथ ही प्रार्थना करें कि आपका दिन शांतिमय तरीके से बीते और आपके शत्रु आपसे दूर रहें. प्रार्थना करने के बाद नीम्बू के टुकड़ों को किसी खुले स्थान पर जा कर चारों दिशा में फैक दें. इसके बाद चुपचाप आपने दूसरे कामों में लग जाएँ|

शत्रु उच्चाटन तंत्र प्रयोग विधि:

इसके अंतर्गत गोमती चक्र का प्रयोग भी किया जा सकता है, अगर आपके शत्रु ने आपके ऊपर कोई जादू टोना अथवा टोटका कर दिया है तो आप शुक्ल पक्ष में बुधवार के दिन ख़ुद के सिर पर गोमती चक्र को घुमाएँ और फेंक दें. इस प्रयोग से आपके शत्रु के द्वारा आपको नुकसान पहुँचाने के सारे प्रयास निष्फल हो जायेंगे| आप अगर चाहते हैं कोई भी आपका शत्रु न रहे और हर कोई मित्रवत आपसे व्यवहार करने लगे तो आपको  बैजयंति माला को आपने गले में पहनना चाहिए. इसमें अद्भुत शत्रु वशीकरण शक्ति होती है. इसके प्रयोग से आपका शत्रु मित्र बनके आपके साथ व्यवहार करने लगेगा. इस माला के प्रभाव से आपके शत्रुओं किस संख्या बड़ी तेजी से कम हो जाएगी. इस माला का प्रभाव ये है कि स्वयं भगवान कृष्ण भी इसे धारण करते थे|

स्त्री शत्रु के प्रभाव को समाप्त करने हेतु ये प्रयोग करें. आप सिंदूर, लाल चन्दन, कंगनी, छोटी इलाइची, और ककड़सिंगी से धूप बत्ती बना लें. अब जो भी स्त्री आपके प्रति शत्रुता का व्यवहार कर रही है उसका नाम लेते हुए प्रतिदिन इस धूप बत्ती को जलाएं. ये अद्भुत प्रयोग आपके स्त्री शत्रु का शमन कर देगा| यहाँ दिए गए शत्रु शमन के उपाय टोटके आपके शत्रु से द्वारा होने वाले सभी नुकसान से बचाने में सक्षम हैं. आपका धैर्य पूर्वक किया गया प्रयास आपको ज़रूर सफलता दिलाएगा|

शत्रु सेवाए निम्न प्रकार है: शत्रु को पीडित करने के उपाय, शत्रु को मारने का मंत्र, शत्रु को परेशान करने के टोटके, शत्रु शमन के लिए टोटका, शत्रु नाश मंत्र टोटका, शत्रु नाशक उपाय, शत्रु वशीकरण टोटके, शत्रु शमन के उपाय, शत्रु मारण प्रयोग, शत्रु विनाशक मंत्र, दुश्मन से छुटकारा पाने के उपाय, दुश्मन से बचने के उपाय, दुश्मन को मारने के टोटके, दुश्मन से बदला, दुश्मन का नाश करने के टोटके, दुश्मन के मारण टोटके, उच्चाटन मंत्र के टोटके, उच्चाटन तंत्र, उच्चाटन शाबर मंत्र विधि, विद्वेषण टोटके, उच्चाटन क्रिया, विद्वेषण मंत्र यंत्र, विद्वेषण शाबर मंत्र तंत्र, उच्चाटन प्रयोग, मारन टोटके, मारण तंत्र विद्या, शत्रु मारण टोटके, मारण कर्म का प्रयोग, शाबर मारण मंत्र, विद्वेषण प्रयोग, शत्रु वशीकरण मंत्र, शत्रु नाशक टोटके, शत्रु नाशक शाबर मंत्र, दुश्मन से बदला लेने के टोटके, दुश्मन को हराने के टोटके, दुश्मन से बदला लेने का मंत्र, दुश्मन को मारने का मंत्र, दुश्मन का नाश, मारण प्रयोग, दुश्मन का नाश करने के उपाय, शत्रु निवारण के उपाय, शत्रुओं को दूर करने के उपाय|

शत्रु शमन/बदला/मारण लेने के उपाय टोटके मंत्र का प्रयोग कर किसी भी दुश्मन से बदला लिया जा सकता है और अपने दुश्मन को हराया जा सकता है | यदि आपका दुश्मन अभी भी बहुत आपको परेशान कर रहा है और आप उसको पराजित करना चाहते हो तो संपर्क करे और पाए किसी भी दुश्मन/शत्रु से सम्बंधित समस्या का समाधान तांत्रिक सिद्ध क्रिया का प्रयोग द्वारा| यहाँ पर हर दुश्मन की काट है हमारे पास जिसका समाधान केवल तांत्रिक क्रिया प्रयोग द्वारा ही संभव है|

 

Saas Sasur Vashikaran – सास ससुर को वश में करना

Saas Sasur Vashikaran – सास ससुर को वश में करना

सास बहु का झगड़ा तो हर घर में होता रहता है| लेकिन कभी कभी ये झगड़ा हद से ज़्यादा बढ़ जाता है और फिर उसे सहना बड़ा मुश्किल हो जाता है| अगर आपकी सास या ससुर आपको तंग कर रहें है तो आप सास ससुर को वश में करने का उपाय करके इस समस्या से निजात पा सकते हैं| अगर आप थोड़ा सावधानी और समझदारी से काम लें तो आपके सास ससुर आपसे प्रेममय व्यवहार करने लगेंगे| अगर ये उपाय बहु करती है तो इससे काफी लाभ प्राप्त होता है. इस उपाय में आधी कटोरी दहीं लें और इसे एक सफ़ेद पारदर्शी कपड़े से ढँक कर ऊपर थोड़ी सी राख डाल दें| अब इसे रात भर के लिए ऐसे ही छोड़ दें, अगले दिन राख और दही को अलग कर लें. दही को किसी मंदिर में चढ़ा दें और राख को किसी मिट्टी के बर्तन में रख लें|

Saas Sasur Vashikaran - सास ससुर को वश में करना

Saas Sasur Vashikaran – सास ससुर को वश में करना

सास वशीकरण उपाय/टोटका:-

ये विधि लगातार 13 दिन तक करें उसके बाद मिट्टी के बर्तन में इकठ्ठा राख को किसी नदी या समंदर में बहा दें ये सास ससुर को वश में करने का उपाय आज़माया हुआ और बहुत ही असरदार है. ये उपाय करने के बाद आपकी सास और ससुर से आपके मतभेद दूर हो जायेंगे| सास वशीकरण के लिए ये उपाय बहुत उपयोगी है. इसके लिए गाय के गोबर का दीपक बनाकर उसमे गुड और मीठा तेल डाल दें. इसके बाद इसे जला कर घर के मुख्य दरवाजे के सामने रखे दें. ये उपाय करने से सास आपके वश में हो जाएगी|

जिस घर में बार-बार बर्तन गिरने की आवाज़ आती रहते है वहां भी गृह क्लेश होने लगता है. इसलिए घर में बर्तनों को इस तरह व्यस्थित करें की उनकी इस तरह आवाज़ न हो. बर्तनों को कर्कश ध्वनि घर में अशांति पैदा करती है| अगर आपके सास ससुर से बहुत ज़्यादा मतभेत हैं और आये दिन झगड़े होते रहते हैं तो सास ससुर को वश में करने का उपाय पूरी तन्मयता के साथ करें. इसके लिए सास के किसी कपड़े का टुकड़ा लेकर उस पर लाल रंग के पेन से उनका नाम लिखें और फिर उसे गड्डा खोदकर मिट्टी में गाढ़ दें. इस उपाय को करने पर सास और बहु के मतभेत दूर हो जाते है और आपसी विश्वास बढ़ने लगता है|

अगर आप प्रतिदिन पहली रोटी गाय को और आखरी रोटी कुत्ते को खिलाती हैं तो आप घर में सास आपका कहा मानने लगती है और घर से तनाव दूर हो जाता है. रोटी देते समय मन में प्रार्थना करें कि घर का क्लेश दूर हो जाए और सास प्यार से व्यवहार करने लगे| सास को वश में करने का ये टोटका प्रतिदिन करें. जब भी घर में आप रोटी बनायें तब तवे के गर्म होने पर उस पर थोड़ा ठंडा पानी छिड़क दें. ऐसा करने पर सास शांत हो जाएगी| घर में तुलसी का पौधा लगाने से सास ससुर को वश में करने का उपाय हो जाता है. इस तुलसी के पौधे की प्रतिदिन पूजा की जानी चाहिए और सुबह-शाम तुलसी के पौधे के पास दीपक जलाना चाहिए. ये उपाय करने पर आपके घर से नकारात्मकता दूर चली जायेगी|

सास ससुर को वश में करने का टोटका:-

सास ससुर को वश में करने का उपाय करने ले लिए सुबह सूर्योदय से पहले घर को साफ़ करके कचरा घर से बहार फेंक दें. घर के अंदर किसी भी तरह की गन्दगी से नकारात्मक ऊर्जा घर में प्रवेश कर देती है जिससे आपसी मतभेद सामने आने लगते हैं| आप सास वशीकरण मंत्र के सहायता से अपने सास को अपने काबू में कर सकती हैं. सास वशीकरण मंत्र इस प्रकार है – अमे ज़ाला मिलेल फले तत्र प्रवेशा! स्नान आदि करके के बाद लगातार 21 दिन तक इस मंत्र का जाप करें. इस मंत्र का जाप करने से सास बहु के विवाद शांत होने लगते हैं|

फेंगसुई की सहायता से भी आप सास ससुर को वश में करने का उपाय का उपाय कर सकती हैं. फेंगुसुई चीन की प्रसिद्द तकनीक है. इसके ज़रिये किसी स्थान पर सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह करके झगड़े सुलझाये जा सकते हैं| अगर आप अपनी सास को वश में करना चाहती हैं, और चाहती हैं कि वह आपसे प्रेमपूर्वक व्यवहार करे तो जिस कमरे में आप रहती हैं उसमें पर्याप्त उजाला रखें. इस कमरे के दक्षिण-पश्चिम कोने में अपनी एक फ़ोटो सास के साथ जिसमे आप दोनों ख़ुश दिख रही हों वह लगा दें. इस तस्वीर पर पर्याप्त रोशनी पड़नी चाहिए. ये तस्वीर आपके और आपकी सास के रिश्ते को मधुर बना देगी|

सास वशीकरण उपाय के लिए आप घर के दक्षिण-पश्चिमी हिस्से में एक टेबल पर फेंगसुई के क्रिस्टल बाल रखें. इस तरह की बाल से आपके घर से नकारात्मता दूर रहेगी और आपके सास ससुर से रिश्ते अच्छे हो जायेंगे| घर में छोटे बच्चों की उपस्थिति भी घर के वातावरण को सकारात्मक रखती है. घर में बच्चों के साथ रहें ये आपके घर को ऊर्जा और उल्लास से भर देगा और व्यर्थ के झगड़े टल जायेंगे | घर की किसी एक दीवार का रंग लाल करवाने पर सास ससुर को वश में करने का उपाय हो जाता है. क्योंकि लाल रंग अग्नि तत्व का प्रतिनिधित्व करता है और इसके कारण नकारात्मकता का नाश होता है|

आप सास ससुर को वश में करने का उपाय करने के लिए लाफिंग बुद्धा का भी प्रयोग कर सकती हैं. लाफिंग बुद्धा घर में सम्रद्धि और सकारात्मक ऊर्जा का प्रतीक है. लाफिंग बुद्धा घर में रखने पर आप हर तरह के गृह क्लेश से मुक्त हो सकते हैं| अपनी ग्रहों की स्थिति ठीक नही होने पर सास बहु के बीच झगडा होने लगता है|

अगर आपकी कुंडली में पापी गृह के साथ चन्द्रमा बैठा हुआ हो तो सास ससुर को वश में करने का उपाय इस तरह करें:-

घर के बाहर के किसी व्यक्ति से उपहार स्वरुप चांदी न लें, शिवलिंग पर सोमवार के दिन दूध चढ़ाएं| घर में बड़े शंख को रखरकर उसकी पूजा करें, अपने घर में कुछ संख्या में मोरपंख रख दें| ध्यान रखें की आपके घर में कबूतर घोंसला न बना पांए, खाने में केसर का इस्तेमाल करने पर भी आप सास बहु के झगड़े से मुक्त हो सकती हैं| सास ससुर को वश में करने का उपाय करते समय मन में पूरी तरह से विश्वास रखें और धैर्य बनाये रखें. अगर आप अपने ये उपाय करते हैं और मन में सकारात्मक विचार रखते हैं तो शीघ्र ही आपके सास ससुर पर वशीकरण का प्रभाव दिखने लगेगा|

यदि किसी की सास बहुत परेशान कर रही है और आप उससे से छुटकारा पाना चाहते है तो सास ससुर को वश में करने का उपाय टोटका से समाधान प्राप्त कर सकते है | आप सास वशीकरण मंत्र टोटके का प्रयोग कर अपने सास ससुर को अपने काबू में किया जा सकता है | यदि आपकी सास अभी भी आपके काबू में नहीं आयी तो वशीकरण का प्रयोग कर इसको अपने वश में किया जा सकता है | यदि बताये गए उपाय कार्य नहीं कर पा रहे है तो संपर्क करे और पाए अचूक ज्योतिष समाधान जिसके द्वारा अपने सास ससुर को कण्ट्रोल/वश में  कर सकते है |

 

« Older Entries